सोमवार, 15 नवंबर 2010

युवा पीढि़ के लिये नई क्रांति 3जी......



3जी सुविधा संचार सुविधा में एक नई प्रगति, युवाओं में इसको लेकर बहुत ज्‍यादा जोश है इसीलिए इसे तीसरी पीढ़ी की मोबाइल सेवा कहा जा सकता है...महानगरों में यह सुविधा शुरू होने से इसका उपयोग एक जादू जैसा लगता है एक उच्‍चगति (हाईस्‍पीड) इंटरनेट सेवा, इस टेक्‍नालॉजी में आप अपनों की आवाज सुन ही नहीं सकेंगे, उन्‍हें देख भी सकेंगे जी हां क्‍योंकि 3जी ही देता है आपको वायस काल्‍स के अलावा वीडियो काल्‍स की सुविधा इसमें टी.वी हां मनोरंजन का खजाना भी इसमें छुपा हुआ है जिसमें आप अपने पसंदीदा चैनल भी देख सकते हैं, एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति को वीडियो भेजना भी आसान है, लाइव वीडियो एवं म्‍यूजिक डाउनलोड करना तो और भी आसान, समाचार हो या खेलकूद की घटनायें सभी कुछ है ।

3जी की इस क्रांतिकारी सुविधा के चलते आपको बस एक सुविधायुक्‍त 3जी मोबाइल सेट लेना होगा, जिसमें आप उपयोग कर पाएंगे मल्‍टीमीडिया सेवाएं, तीव्रगति ब्राडबैण्‍ड तथा आपके मोबाइल हैण्‍डसेट में वीडियो फुटेज देख पाने का अवसर फिर चाहे आप घर पर हो या फिर अपने कार्यस्‍थल पर इसका उपयोग करना है बेहद आसान ।

तकनीक जितनी अधिक आधुनिक तथा तेज होती है उतनी ही अधिक सुरक्षा तंत्र के लिए कभी कभी खतरा बन जाती है.अत: दूरसंचार तकनीक की उपलब्धता पर नियंत्रण आवश्यक है.देश को 2 जी सेवाओं से उतना अधिक खतरा नहीं था.लेकिन 3जी सेवाओं से कहीं देश की सीमाओं पर खतरा उत्पन्न न हो यह भी ध्यान रखा जाना जरूरी है.क्योंकि हाई स्पीड़ डाटा ट्रांसफर तथा वीडियो कॉलिंग से महत्वपूर्ण कई जानकारियां देश से बाहर जा सकती है.इसलिए उपभोक्ता का चयन तथा सुविधा उपलब्धता बहुत गहरी छानबीन के बाद दिया जाना अति आवश्यक है


दूरसंचार के क्षेत्र में इस नई तकनीक की क्रांति की वजह से देश में रोजगार के अवसर तो उपलब्ध होंगे ही अन्य कई क्षेत्र अपरोक्ष रूप से लाभान्वित होने वाले हैं, कोई भी नई तकनीकि ईजाद होती है तो उसे आम जन तक पहुंचने में समय लगता है इसी तरह 3जी सुविधा के साथ भी है अभी यह केवल महानगरों तक ही सीमित हो पाई दूरदराज के गावों में पहुंचने में इसे कुछ समय लग सकता है। लेकिन इसका उपयोग शैक्षणिक गतिविधयों के साथ ही देश की समृद्धि के लिये भी हो अच्‍छा है।


11 टिप्‍पणियां:

  1. रोमांचक है 3जी का अवतरण

    उत्तर देंहटाएं
  2. ाच्छी जानकारी है। जब तक ये सुविधा छोटे शहरों मे आयेगी तब तक तो अपनी आँखें ही जवाब दे जायेंगी। हा हा हा ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. sabhee bache ghar se bahar hai isee ke madhyam se 24 ghante traceable hai...........
    nice post......

    उत्तर देंहटाएं
  4. abhi tak 3g ke baare mein bas suna hi hai , use nahi kiya..

    mere blog par bhi sawagat hai..
    Lyrics Mantra
    thankyou

    उत्तर देंहटाएं
  5. वह बहुत सुंदर लिखा !
    किसी ने पूछा क्या बढ़ते हुए भ्रस्टाचार पर नियंत्रण लाया जा सकता है ?

    हाँ ! क्यों नहीं !
    कोई भी आदमी भ्रस्टाचारी क्यों बनता है? पहले इसके कारण को जानना पड़ेगा.
    सुख वैभव की परम इच्छा ही आदमी को कपट भ्रस्टाचार की ओर ले जाने का कारण है.
    इसमें भी एक अच्छी बात है.
    अमुक व्यक्ति को सुख पाने की इच्छा है ?
    सुख पाने कि इच्छा करना गलत नहीं.
    पर गलत यहाँ हो रहा है कि सुख क्या है उसकी अनुभूति क्या है वास्तव में वो व्यक्ति जान नहीं पाया.
    सुख की वास्विक अनुभूति उसे करा देने से, उस व्यक्ति के जीवन में, उसी तरह परिवर्तन आ सकता है. जैसे अंगुलिमाल और बाल्मीकि के जीवन में आया था.
    आज भी ठाकुर जी के पास, ऐसे अनगिनत अंगुलीमॉल हैं, जिन्होंने अपने अपराधी जीवन को, उनके प्रेम और स्नेह भरी दृष्टी पाकर, न केवल अच्छा बनाया, बल्कि वे आज अनेकोनेक व्यक्तियों के मंगल के लिए चल पा रहे हैं.
    http://www.maha-yatra.com/

    उत्तर देंहटाएं
  6. लाभप्रद जानकारी के लिये आभार....
    मोबाईल के बिना लगे जिन्दगी बेकार ;)

    उत्तर देंहटाएं