गुरुवार, 25 जून 2009

हृदय रोगियों के लिये वरदान बना यह हास्पिटल

अभी पिछले दिनों ही पढ़ने में आया कि ऐसा भी हास्पिटल है जहां हृदय रोगियों का नि:शुल्‍क इलाज किया जाता है, तो सोचा इसे आपके समक्ष प्रस्‍तुत करूं हो सकता है कि इसका लाभ किसी ऐसे व्‍यक्ति को मिले जिसे कि वास्‍तव में इसकी जरूरत हो, तो इस संस्‍थान के बारे में संक्षिप्‍त जानकारी :

हृदय रोगों से पीडि़त व्‍यक्तियों के लिये बेंगलुरू के व्‍हाइटफील्‍ड इलाके में स्थित श्री सत्‍य साईं इंस्‍टीट्यूट आफ हायर मेडिकल साइंस हास्पिटल किसी मंदिर से कम साबित नहीं हो रहा है । यहां आने वाले सभी हृदय रोगियों का इलाज नि:शुल्‍क किया जाता है।

जीं हां, बिल्‍कुल सही बात है यह यहां न केवल हृदय की सभी बीमारियों का इलाज नि:शुल्‍क होता है, बल्कि हास्पिटल में उच्‍च स्‍तर की सभी चिकित्‍सकीय सुविधाएं मुहैय्या कराई जाती हैं । यहां आने वालों का इलाज मानवता के लिये किया जाता है, न कि धर्म, जाति या आर्थिक स्थिति को आधार मानकर, इस सन्‍दर्भ में अपील आफ द पीस प्राइज लॉरेट्स फांउडेशन के चेयरमैन डा. माइकल नोबेल कहते हैं, ‘’मैने धरती पर ऐसा पहले कहीं नहीं देखा। यह पश्चिम देशों में स्थित राष्‍ट्रीय चिकित्‍सालयों से भी अद्भुत अनुभूति प्रदान करता हैा श्री साईं बाबा द्वारा बनवाया गया यह हास्पिटल तीन पहलुओं के कारण अधिक प्रभावशाली है : पहला स्‍टेट आफ आर्ट टेक्‍नोलाजी, दूसरा निशुल्‍क चिकित्‍सकीय सुविधा और तीसरा साईं बाबा की उपस्थिति जो रोगियों को चमत्‍कारिक रूप से अच्‍छा कर देती है।‘’

यह विश्‍व का पहला ऐसा हास्पिटल है, जो हृदय रोग की किसी भी बीमारी के इलाज के लिये पैसा नहीं लेता है। सबसे बड़ी बात यहां कोई बिलिंग काउंटर नहीं है।

4 टिप्‍पणियां:

  1. ek aisi jaankari jisapar bishwash hi nahi ho raha...........par sahi jaankari hai isame domat nahi hai ..........aaj ke yug me sach hona ek enupam baat lagati hai..........

    उत्तर देंहटाएं
  2. जानकारी देने का शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  3. ये वाकई एक अच्छी जानकारी दी है आपने। धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं